Tuesday , April 23 2024

चुनावी ड्यूटी से बचने के लिए गजब के बहाने

सीधी में संसदीय सीट के लिए 19 अप्रैल को मतदान होंगे. लेकिन उस दिन ड्यूटी से बचने के लिए रोज संयुक्त कलेक्टर को आवेदन मिल रहे हैं. अब तक उन्हें 150 से ज्यादा आवेदन मिले हैं. कोई बीमारी की बात कर रहा है तो कोई शादी समारोह का उल्लेख कर रहा है. अब तक 24 कर्मचारियों को राहत भी मिली है.

मध्य प्रदेश के सीधी जिले में संसदीय सीट के लिए 19 अप्रैल को मतदान हैं. लेकिन यहां ड्यूटी से बचने के लिए हर दिन आवेदन लगाए जा रहे हैं. संयुक्त कलेक्टर को 150 से ज्यादा आवेदन अब तक मिल चुके हैं. ज्यादातर में बीमारी या फिर शादी का उल्लेख है. शनिवार को शादी का कार्ड लेकर संयुक्त कलेक्टर के पास पहुंचे एनसीएल के ब्लॉक बी परियोजना में कार्यरत एक कर्मचारी ने बताया कि 19 अप्रैल को उनका तिलक है और उसी दिन मतदान भी है.

फिलहाल कर्मचारी मोहित को आश्वासन मिला है. छुट्टी मिलेगी या नहीं ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा. बता दें, जिले के 815 मतदान केंद्रों पर वोटिंग करवाने सहित अन्य चुनावी कार्य में करीब 6 हजार अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है. इस बार भी शासकीय सेवकों के अलावा एनसीएल, एनटीपीसी के अधिकारियों और कर्मचारियों को भी जिम्मेदारी सौंपी गई है.

ड्यूटी को जिला निर्वाचन अधिकारी ने अनिवार्य घोषित किया है. अवकाश पर पाबंदी लगा दी है. ऐसे अधिकारियों और कर्मचारियों की संख्या 150 से ज्यादा है, जो चुनावी ड्यूटी नहीं करना चाहते. इसलिए आवेदन देकर उन्होंने ड्यूटी से मुक्ति की गुहार लगाई है.

 

About admin

हमारी समाचार वेबसाइट आपको ताज़ा और विश्वसनीय समाचार प्रदान करती है। हम राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खबरों के साथ-साथ विज्ञान, व्यापार, मनोरंजन, खेल और तकनीकी खबरें भी प्रकाशित करते हैं। आपको अपडेट और जानकारी भरी दुनिया में रखने में हमें विश्वास करें।

Check Also

मंदाना करीमी ने खोला बड़ा राज, कहा- शादी की बाद ……

टेलीविजन पर इन दिनों कंगना रनौत का रियल्टी शो लॉकअप खूब सुर्खियों में छा रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *