Tuesday , April 23 2024

नरेन्द्र मोदी लोकार्पण करेंगे, भगवान राम की मूर्ति को स्पर्श करेंगे तो मैं क्या वहां ताली बजाऊंगा- स्वामी निश्चलानंद सरस्वती

रतलाम: जनसंवाद न्यूज़ प्रतिनिधि। अयोध्या में भगवान राम की मूर्ति स्थापना, प्राण-प्रतिष्ठा में शास्त्र सम्मत परंपरा का पालन होना चाहिए। सबके पूर्वज सनातनी वैदिक आर्य हिंदू ही थे। राजनेता तो दांव खेलते रहते हैं। वर्तमान प्रधानमंत्री कूटनीति में माहिर हैं। उनमें इतना दम तो है कि वे अपने को सनातनी, धार्मिक, हिंदू साबित करने में लगे हैं, शास्त्र सम्मत हो जाएं तो सोने पर सुहागा हो जाएगा।

यह बात मीडिया से चर्चा के दौरान गोवर्द्धनमठ पुरी पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती ने कही। राममंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के निमंत्रण को लेकर उन्होंने कहा कि वे कार्यक्रम में नहीं जाएंगे। वहां मोदी लोकार्पण करेंगे, राम भगवान की मूर्ति को स्पर्श करेंगे तो मैं वहां क्या ताली बजाकर जय-जय करूंगा।

शंकराचार्य ताली बजाएंगे तो वे अधिक से अधिक नमस्कार कर लेंगे। वे योग करा रहे हैं, योगी हो गए। धार्मिक क्षेत्र में भी हस्तक्षेप कर रहे हैं। मुझे अपने पद की गरिमा का ध्यान है। मुझे मिले निमंत्रण में बताया गया है कि आप चाहें तो एक व्यक्ति को साथ लेकर आ सकते हैं। अगर 100 व्यक्ति के साथ आने का बोलते तो भी नहीं जाता। इससे अयोध्या से मेरा संबंध नहीं टूटेगा, लेकिन इस अवसर पर मेरा जाना उचित नहीं है।

मक्का मक्केश्वर महादेव है

शंकराचार्य ने कहा कि मक्का भी मक्केश्वर महादेव है। ताजमहल का नाम तेजो महादेव है। वर्तमान में तीर्थस्थल को पर्यटन स्थल बनाया जा रहा है। इससे वे भोगस्थली बन रहे हैं। धर्म की सीमा में ही राजनीति है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गोरक्षक हैं, गाय को चारा खिलाते हैं, लेकिन गो हत्यारों का आदर्श भी बनना चाहते हैं। उनको समझना कठिन है।

About admin

हमारी समाचार वेबसाइट आपको ताज़ा और विश्वसनीय समाचार प्रदान करती है। हम राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खबरों के साथ-साथ विज्ञान, व्यापार, मनोरंजन, खेल और तकनीकी खबरें भी प्रकाशित करते हैं। आपको अपडेट और जानकारी भरी दुनिया में रखने में हमें विश्वास करें।

Check Also

Mahashivratri 2024: महाशिवरात्रि पर्व जानें पूजा के लिए क्या है शुभ मुहूर्त

Mahashivratri Puja Muhurt Time 2024: 8 मार्च को पूरे देश में महाशिवरात्रि का त्योहार मनाया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *